RISHTE

RISHTE.....

Rishte: beautiful Hindi lines about rishte in Hindi.

RISHTE hamesha
"Titli"  jaise hote hai...
Jorse
Pakdo to mar jate hai...
Chhod do to ud jate hai...   aur agar
P
yar se pakdo to, apna rang chhod jate hai...
It is easy to make a relation but it is very difficult to remain it.

रिश्ता विश्वास का या विश्वास का रिश्ता?

लोगों को कहते सुना है कि रिश्तों में विश्वास होना चाहिए मगर कुछ रिश्ते जो बहुत ही ज्यादा आत्मिक और मानवीय होते हैं क्या उन्हें बिना विश्वास के सींचा जा सकता है?

बिलकुल नहीं. कहते हैं कि जो बदल जाए वो अपना कभी था ही नहीं. यही बात सच्चे रिश्तों में हमेशा याद रखनी होगी कि ख़ुशी हो या गम जिन रिश्तों को हमने दिल से चाहा है वो हमेशा ही सच्चे और साथ निभाने वाले साबित होने चाहिए.

ऐसा कभी नहीं करना चाहिए कि कोई व्यक्ति हमें दिल से चाहता हो, हमारा हर वक़्त साथ देता हो हम मुसीबत के वक्त उसका साथ छोड़ दें.

सच्ची दोस्ती और सच्चा रिश्ता एक मिसाल बनना चाहिए. अगर हम किसी रिश्ते को ईमानदारी से निभाते हैं तो हमारे मन में भी कुछ अलग सा सुकून रहता है. जो रिश्ते स्वार्थ से बनाए जाते हैं वो बड़ी जल्दी ही स्वार्थ पूरा होने पर टूट जाते हैं.

स्वार्थ से कायम किये गए रिश्तों को सिर्फ मतलब के रिश्ते कहना ही ठीक है. इन्हें सामान्य सी रिश्तों की परिधि में शामिल करना मैं ठीक नहीं मानता.

वैसे तो कुछ रिश्ते भले ही वो खून के ना हों लेकिन उनमें ईमानदारी बहुत अधिक रहती है. जैसे एक दुकानदार और ग्राहक का रिश्ता भी ईमानदारी पर आधारित हो सकता है. ईमानदारी से निभाए जाने वाले रिश्ते समाज में मोरल वैल्यूज को बढ़ावा देते हैं.

सच्चे रिश्तों में बहुधा मेरा पराया का भी बोध नहीं होता वहां तो बस समर्पण की भावना रहती है. जिस रिश्ते में समर्पण और विश्वास की भावना नहीं होती वह रिश्ता कभी भी बहुत अधिक समय तक नहीं चलने वाला.

Read more sweet sms and sweet thoughts
This nice collection is collected for you.

The ralations

jahan matlab ho waha rishta kaise hota hai


Insan ne khuda se poochha ki rishton ka matlab kya hota hai.
Tbahi Khuda ne kaha ki jis rishte me matlab ho wah rishta hi kahan hota hai.

रिश्तों से अपेक्षा रखना स्वार्थ नहीं है.
मगर अपेक्षा के लिए रिश्ते रखना स्वार्थ है.

rishte-kaise-hote-hai-quotes